आपका मोबाइल भी हो सकता है, पिम्पल होने का बड़ा कारण

reasons of pimples on face in hindi

मोबाइल फ़ोन, पिम्पल्स होने का एक बड़ा कारण

दोस्तों आज हम आपको चेहरे पर  पिम्पल्स होने  का एक बड़ा कारण बताएंगे। (reasons of pimples on face in hindi) आजकल के रहने के तरीके और खानपान से हमारा स्वास्थ्य बहुत प्रभावित हो रहा है। आज हम टेक्नोलॉजी से घिरे हुए हैं। आधुनिक टेक्नोलॉजी से हमारे  रोजमर्रा के काम और कई जटिल काम बेहद आसान हो गए हैं, लेकिन कई बार इन उपकरणों का हमारे शरीर और दिमाग पर प्रतिकूल प्रभाव भी पड़ता है।

चेहरे पर पिम्पल या फिर अन्य तरह का कोई दाग चेहरे की खूबसूरती को बिल्कुल खराब कर देता है। मोबाइल फ़ोन का ज्यादा इस्तेमाल करना  पिम्पल्स होने का एक बड़ा कारण हो सकता है।  खासतौर से आजकल यानि कि बदलते मौसम में चेहरे पर मुंहासे होने के चांस ज्यादा बढ़ जाते हैं। जिसके चलते चेहरे की सारी रंगत उड़ जाती है।

पिम्पल्स होने के कारण reasons of pimples on face in hindi

भागदौड़ भरी लाइफ

मुहांसे होने के और भी कई कारण होते हैं। आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोगों पर कई तरह के दबाव हैं। ना सिर्फ बड़ों पर बल्कि छोटे-छोटे बच्चे भी आजकल पढ़ाई और बढ़ती प्रतिस्पर्धा के चलते तनाव के शिकार हो रहे हैं। तनाव भी चेहरे पर मुंहासे पैदा करने का एक बहुत बड़ा कारण है।

मुंहासे और मोबाइल फोन

आज के लोगों में खासकर युवाओं में स्मार्टफोन का क्रेज कुछ ज्यादा ही बढ़ गया है। छोटे-छोटे बच्चे भी आजकल स्मार्टफोन के सभी फीचर्स के बारे में ना सिर्फ जानते हैं बल्कि बखूबी इस्तेमाल करना भी जानते हैं। हालांकि इस चीज के अगर फायदे हैं तो नुकसान भी हैं। ज्यादा स्मार्टफोन का नकारात्मक प्रभाव हमारे दिमाग पर तो पड़ ही रहा है साथ ही हमारी स्किन पर भी पड़ रहा है।

केमिकल्स  वाले ब्यूटी प्रोडक्ट्स

इसके अलावा सुंदर दिखने के चलते कई लोग कोई भी क्रीम या कैमिकल प्रॉडक्ट का इस्तेमाल कर लेते हैं, जिनसे भी चेहरे पर मुहांसे होते हैं। मुंहासों का ये कारण किशोरो में ज्यादा देखा जाता है।

डिप्रेशन  और मुंहासे

कई लोग चेहरे पर हद से ज्यादा मुंहासे होने या अन्य किसी तरह की खराबी के चलते डिप्रेशन के शिकार हो जाते हैं। इसके अलावा शोध बताते हैं कि जिस समय व्यक्ति तनावग्रस्त होता है तब शरीर में कोर्टिसोल हार्मोंस का स्राव बढ़ जाता है जिसके कारण शरीर की त्वचा की ग्रंथियों से सीवम नामक हारमोन का स्राव ज्यादा होने लगता है जिसके कारण मुंहासे होते हैं।

ऑयली स्किन को ज्यादा प्रॉब्लम

मुंहासे ज्यादातर तैलीय त्वचा में होते हैं। मुंहासे होने के बड़े कारणों में दूषित खानपान और शरीर में होने वाले हार्मोनल परिवर्तन हैं। मौसम में हुए बदलाव के कारण भी कई बार मुंहासे होने की समस्या हो जाती है। सर्दियों में तो मुंहासों के साथ बड़ी असमंजस वाली स्थिति पैदा हो जाती है, क्योंकि ऐसे में त्वचा को नमी की भी जरूरत होती है और वह त्वचा को नहीं मिल पाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *