DigiLocker क्या है? और DigiLocker पर अकाउंट कैसे बनाए?

what is digilocker

दोस्तों इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि, DigiLocker क्या है? और आपके लिए यह कैसे फायदेमंद है? (what is digilocker in hindi) आज के दौर में केंद्र सरकार ने सभी कुछ डिजिटल करने का निर्णय कर लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने सभी services डिजिटल कर दी है। यदि आपको किसी भी प्रकार की कोई भी सरकारी सेवा का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपको सभी कुछ डिजिटल ही मिलेगा। आप CSC ( common service center) के तहत सभी काम ऑनलाइन करवा सकते हैं। डिजिटल दौर को देखते हुए नरेंद्र मोदी जी ने 2015 में  डिजिलॉकर की शुरुआत की। डिजिलॉकर एक डिजिटल लॉकर है, जिसे डिजिटल इंडिया अभियान के तहत शुरू किया गया था।

DigiLocker  क्या है?

हम अपने सभी डॉक्युमेंट्स को अपने साथ नहीं रख सकते और किसी भी डॉक्युमेंट्स की किसी भी समय जरूरत पड़ सकती है। इसके लिए आपको पेपरलेस हो जाना होगा और पेपरलेस को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने सरकारी सेवाओं का लाभ उठाने के लिए और आपके लिए एक पर्सनल क्‍लाउड स्‍टोरेज सर्विस उपलब्ध कराने के लिए डिजिलॉकर को लॉन्च किया है। डिजीलॉकर खाता खोलने के लिए आपके पास आधार कार्ड जरूर होना चाहिए। डिजीलॉकर में देश के नागरिक पैन कार्ड, वोटर आईडी, पासपोर्ट आदि के साथ कोई भी सरकारी प्रमाण-पत्र स्टोर कर सकते है।

डिजिलॉकर की सुविधा डिजिटल इंडिया अभियान के तहत शुरू की गई। डिजिलॉकर  एक ऐसी सुविधा है जिसके तहत हम अपने सारे डॉक्यूमेंट की एक सॉफ्ट कॉपी को हम ऑनलाइन  एक वेबसाइट या मोबाइल एप्लीकेशन पर save कर सकते है। यह भारत सरकार ने हमें बहुत ही अच्छी सुविधा प्रदान की है। अब से भारत सरकार ने सॉफ्ट कॉपी को भी उतनी मान्यता दे ही  है जितनी एक हार्ड कॉपी को मिलती है। आने वाले कुछ ही दिनों में आप अपने फ़ोन में अपना वोटर कार्ड दिखा कर वोट दे सकेंगे और आप अपने लाइसेंस को भी फ़ोन में ही दिखा सकेंगे।

फायदा क्या होगा?

डिजिलॉकर का सबसे बड़ा फायदा तो यह है कि, यह पूरी तरह से नीट एंड क्लीन प्रोसेस है। इस लॉकर के जरिये किसी भी प्रकार की कोई  धोखाधड़ी नहीं हो सकती है और ना ही नकली दस्तावेजों का कोई चक्कर होता है।

डिजिलॉकर की विशेषताएं
  • शुरुआत में डिजिलॉकर यूजर के लिए 10 MB का स्पेस उपलब्ध है परन्तु बाद में इसे बढ़ाकर 1 GB कर दिया जाएगा।
  • डिजिलॉकर केवल वे लोग इस्तेमाल कर सकते है, जिनके पास आधार कार्ड है।
  • अगर आपका मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी, आपके आधार कार्ड से लिंक है तो आप डिजिलॉकर का इस्तेमाल कर सकते है।
  • जो मोबाइल नंबर आप इस्तेमाल कर रहे है और जो मोबाइल नंबर आधार कार्ड में लिंक है। वें दोनों नंबर अलग अलग है तो पहले आपको अपने मोबाइल नंबर रेजिस्ट्रेशन में चेंज करना होगा। फिर ही आप डिजिलॉकर खोल सकते है।
डिजिलॉकर पर अकाउंट कैसे बनाएं ?
  • डिजिलॉकर पर अकाउंट बनाने के लिए सबसे पहले आपको इस website https://digilocker.gov.in/ पर visit करना होगा।
  • उसके बाद sign up पर क्लिक करें। जैसा image में दिखाया गया है।

  • फिर आप अपना मोबाइल नंबर डालें और continue पर क्लिक करें।
  • अब आपने जो मोबाइल नंबर डाला होगा, उस पर OTP चला जाएगा।
  • OTP enter करके verify पर क्लिक करें।
  • उसके बाद आपको अपना username और password set करना होगा।
  • username और password set करने के बाद sign up पर क्लिक कर दें।

  • उसके बाद आपको अपना आधार नंबर डालना होगा।
  • फिर आपको अपना आधार कार्ड वेरीफाई करना होगा , इसके लिए आप OTP select करें।
  • अब continue पर क्लिक करें।
  • आपके मोबाइल नम्बर पर एक और password आयेगा उसे डालें और verify पर क्लिक करें।
  • अब आपका डिजिलॉकर अकाउंट बनकर तैयार हो चूका है।

  • आप बाद में इसमें अपने डाक्यूमेंट्स अपलोड कर सकरते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *