जानिए सुकन्या समृद्धि योजना क्या है और इस योजना का लाभ कैसे लें

what is sukanya samriddhi yojana in hindi

दोस्तों इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि, सुकन्या समृद्धि योजना क्या है और आप इस योजना का लाभ कैसे लें सकते है।  (what is sukanya samriddhi yojana in hindi) आपको बता दें कि, सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत केंद्र सरकार ने 4 दिसंबर 2014 को की थी। यह योजना केवल बेटियों के लिए है।

इस योजना की शुरुआत करने का सरकार का मुख्य उद्देश्य बेटियों को बचाना और बेटियों को पढ़ाना है। 10 साल से कम उम्र की बच्ची के लिए उच्च शिक्षा और शादी के लिए बचत करने के लिए, केंद्र सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना एक अच्छी निवेश योजना है।

हाल ही में सरकार ने इस योजना में बहुत बड़ा बदलाव किया है। इस योजना के अनुसार, पहले न्‍यूनतम जमा राशि 1,000 रुपए थी, जिसे अब घटाकर 250 रुपए कर दिया गया है। सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए की।

इस योजना का उद्देश्य बेटियों की पढ़ाई और उनकी शादी पर आने वाले खर्च को आसान बनाना है। बेटियों के भविष्‍य के लिए पैसे जोड़ने के लिए सुकन्‍या समृद्धि योजना एक बेहतरीन स्कीम है। इस स्कीम में आपको न पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) की तुलना में ज्‍यादा ब्‍याज मिलता है बल्कि टैक्स में भी छूट मिलती है।

आइये जानते है इस योजना का लाभ कैसे उठाया जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना (SYS) क्या है?

सुकन्या समृद्धि योजना केंद्र सरकार ने की थी। केंद्र सरकार की एक छोटी बचत योजना है, जिसे बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ स्कीम के तहत लांच किया गया है। इस योजना के अनुसार, सुकन्या समृद्धि योजना का खाता बेटी के जन्म से लेकर 10 वर्ष तक की आयु तक के बीच खुलवाया जा सकता है।

आप सुकन्‍या समृद्धि योजना खाता आप किसी भी पोस्‍ट ऑफिस या बैंकों की अधिकृत शाखा में खुलवा सकते हैं। आप एक बेटी के नाम से सिर्फ एक ही खाता खुलवा सकते है। अगर आपकी दो बेटियां हैं तो आप दो खाते भी खुलवा सकते हैं। इस योजना की शुरुआत उन परिवारों को ध्यान में रखकर की गई, जो छोटी-छोटी बचत के जरिये बच्चे की शादी या उच्च शिक्षा के लिए रकम जमा करना चाहते है।

सुकन्या समृद्धि खाता कौन खुलवा सकता है

बेटी के माता पित्ता, अपनी बेटी के नाम पर सुकन्या धन योजना खाता तभी खुलवा सकते है जब आपकी बेटी की उम्र 10 साल से कम हो। आप एक खाता 1000 रुपए की शुरुआती जमा राशि के साथ खोल सकते हैं और एक वित्तीय वर्ष में इस खाते में कम से कम 1000 रुपए और अधिकतम 150000 रुपए तक ही जमा कर सकते है।

यह पैसा अकाउंट खुलने के 14 साल तक ही जमा करवाना होगा। लेकिन केन्द्र सरकार में इसकी न्‍यूनतम जमा राशि 1000 रुपए से घटाकर 250 रूपए कर दी है। अगर आप किसी वर्ष में न्यूनतम राशि जमा करना भूल गए या जमा नहीं कर सके, तो आपको न्यूनतम जमा राशि के साथ-साथ 50 रुपए प्रतिवर्ष के जुर्माना भी भरना होगा।

खाता खुलवाने के लिए आवश्यक दस्तावेज
  • बच्ची का जन्म प्रमाण पत्र
  • एड्रेस प्रूफ
  • पैसे जमा करने वाले का ID proof
  • पैसे जमा करने वाले का Address proof
पैसे कब तक जमा करवाने होंगे

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत, खाता खोलने की तारीख से 14 साल तक इसमें राशि जमा कराई जा सकती है। उसके बाद खाते पर उस समय लागू दरों के हिसाब से ब्याज मिलेगा। बेटी के 18 साल के होने से पहले आप खाते से पैसा नहीं निकाल सकते हैं।

बेटी के 18 साल पूरे होने के बाद आप उसकी उच्च शिक्षा , बीमारी जैसे कामों के लिए खाते में जमा रकम का 50 फीसदी तक निकाल सकते हैं। बेटी के 21 साल पूरे से पहले बेटी की शादी, उच्च शिक्षा या किसी गंभीर बीमारी की वजह से खाते से पैसे निकाले जा सकते हैं। 21 साल बाद खाता बंद कर दिया जायेगा और लड़की ( जिसके नाम पर खाता खोला गया ) को इसका भुगतान किया जाएगा।

सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ किसे मिलेगा

पहले बात करते है कि, इस योजना का लाभ किसे होगा। वैसे तो इस योजना का लाभ हर वो व्यक्ति ले सकता है जिस घर में बेटी की उम्र 10 साल से कम हो। लेकिन इस योजना का लाभ सबसे ज्यादा गरीब परिवारों को होगा। ऐसे परिवार जो गांवों में रहते है और उनकी आय के साधन बहुत सीमित है।

वो भी 250 रुपए सालाना इस योजना में निवेश कर सकते है और समय आने पर निकलवा सकते है। सबसे अच्छी बात  तो यह कि, अगर आप सुकन्या समृद्धि योजना के तहत अपने बेटी का खता खुलवाते है, तो इसमे आपको इस योजना में आपके निवेश पर 8.5% का ब्याज मिलने वाला है।

यह भी जानिए :- भारत में नोटबंदी से फायदा हुआ या नुकसान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *